सेक्सी आंटी की चुदाई

सेक्सी आंटी की चुदाई

यह मेरी पहली सेक्स कहानी है, अगर कोई भूल हो जाए तो माफ करना. यह एक सच्ची कहानी है जो मेरे साथ घटी थी. मैं काफी समय से कहानी लिखने के बारे में सोच रहा था पर आज हिम्मत करके आपको अपनी कहानी बताने जा रहा हूं.

loading...

 

कहानी स्टार्ट करने से पहले बता दूं कि लड़के अपना लंड बाहर निकाल ले और लड़कियां अपनी पैंटी उतार ले, कहानी पढ़ने के बाद लड़के मुठ मारे बिना और लड़कियां चूत में उंगली करें बिना नहीं रह पाएंगे, अब ज्यादा समय ना लेते हुए मैं कहानी पर आता हूं.

 

हाय, दोस्तों मेरा नाम मोहन है, मैं २४ साल का हूं, मेरी हाइट ५ फुट ११ इंच है और मेरा लंड ६ इंच का है, जो किसी भी औरत को सैटिस्फाई कर सकता है. मुझे आंटिया बहुत पसंद है, शुरू से उनकी बड़ी गांड बड़े चुचे देख कर दीवाना हो जाता हूं, मैं हमेशा आंटियों को देख कर मुठ मारता हूं.

loading...

 

आज जिस आंटी की कहानी बताने जा रहा हूं उनका नाम श्वेता है, उनकी उम्र ३८ साल है और उनकी हाइट ५ फुट ८ इंच है उनका फिगर ३४-२८-३४ है. हट्टी कट्टी भरे सामान की महिला है और बहुत गोरी है.

 

अब आता हूं कहानी पर. यह कहानी एक साल पुरानी है, हुआ कुछ यह कि एक दिन गर्मी का टाइम था, मैं अपने घर पर बनियान में सो रहा था, घर सब लोग घर पर ही थे, तो ५ बजे के करीब घर की बेल बजी तो मैं आधी नींद में दरवाजा खोलने गया तो देखा सामने एक बहुत ही सेक्सी औरत खड़ी है, |

loading...

मैं देख कर पागल हो गया और उनको ऊपर से नीचे देखने लगा, लाल कलर की साड़ी पहनी हुई थी क्या लग रही थी? मन कर रहा था चोद डालू उनको अभी खड़े खड़े पर वह अपने पति के साथ थी तो में ऐसा कुछ भी नहीं कर सकता था.

 

फिर वह दोनों अंदर आ गये, बाकी घर वाले भी मेरे आ गए, सब लोगों ने बातें की पर मैं तो उनको ही देख रहा था, और यह बात उन्होंने भी देख ली थी कि मैं उनको देख रहा हूं, कुछ देर बाद बातों बातों में हमारे नंबर एक्सचेंज हुए, फिर भी मैं उन्हें देख रहा था और मेरा लंड खड़ा हो गया था, और शायद उन्होंने वह देख लिया था. फिर जाते जाते वह मुझे एक अजीब सी स्माइल दे कर चली गई.

 

फिर कुछ दिन तक तो मैं मुठ मारता रहा और हर वक्त उनके सेक्सी बदन को अपने सामने लाता था. फिर एक दिन अचानक उनका मैसेज आया कि हाय, कैसे हो? मैंने भी अच्छे से रिप्लाई किया और हमारी बातें होने लगी.

 

फिर एक रात को उन्होंने मुझे पूछा कि क्या तुम्हारी कोई गर्लफ्रेंड है? मैंने बोला नहीं हे. अच्छा झूठा, इतने स्मार्ट हो, कोई ना कोई तो गर्लफ्रेंड होगी. मैंने बोला थैंक्यू पर ऐसा कुछ नहीं है.

 

फिर थोड़े दिन नॉर्मल बातें होने लगी, एक दिन बात चल रही थी, उन्होंने बताया कि उनकी मैरिड लाइफ अच्छी नहीं चल रही है. उनके पति उनको प्यार नहीं देते, मतलब चोदते नहीं है.

 

loading...

मैंने मन ही मन में सोचा क्या चुतीया पति है? फिर मैंने बोला कि आप उनसे बात करो, वह समझेंगे. उसने कहा उनके पास टाइम नहीं है. मैंने बोला कोई नहीं, सब ठीक हो जाएगा.

फिर उन्होंने एक दिन ड्रिंक की हुई थी तो मैंने पूछा कि जब मैं तुम्हारे घर आई थी तो तुम मुझे नोटिस कर रहे थे ना? तो मैंने बोला हां, आप बहुत सुंदर हो, वह कहने लगी अच्छा जी,, मैंने बोला हां सच में.

 

फिर वह बोली कि तुम मुझे अपनी गर्लफ्रेंड बना लो. मैंने बोला ठीक है आज से आप मेरी गर्लफ्रेंड, पहले मुझे लगा मजाक कर रही है, लेकिन वह तो सीरियस थी. उसने कहा तुम को पता है गर्लफ्रेंड के साथ क्या करते हे. मैंने बोला हां, उसने कहा क्या? मैंने बोला प्यार करते हैं और किस करते हैं.

 

फिर उसने कहा मैं तुम्हारी गर्लफ्रेंड हूं मुझे किस करना चाहते हो? मैंने बिना सोचे समझे हां बोल दिया. तो वह कहने लगी ठीक है, मैं बताती हूं तुम घर आ जाना.

 

फिर बस मैं तो सपने देखने लगा क्या होगा? कैसे होगा? फिर एक दिन उन्होंने मुझे अपने घर बुलाया, फिर मैं फटाफट तैयार होकर बढ़िया डियो लगाकर उनके घर पर पहुंच गया.

 

मैं थोड़ा घबरा भी रहा था, पहले पर दिल मांगे मोर, फिर मैंने बेल बजाई वह आई उन्होंने दरवाजा खोला और बंदर बुलाया, उन्होंने पिंक कलर की नाइटी पहनी हुई थी, मैं तो देख कर पागल हो गया, बड़े बड़े चूचे बड़ी गांड रुका नहीं जा रहा था. मन कर रहा था बस पकड़ लू पर मैंने कंट्रोल किया.

loading...

 

फिर मैं ५-१० मिनट तक बैठा और बातें कि, पानी पिया और फ्रेश होने बाथ रूम में गया और देखा तो ब्रा और पेंटी पड़ी हुई थी, मैं तो उसको सुघने लगा, इतनी अच्छी खुशबू आ रही थी कि मेरा लंड अपने आप खड़ा हो गया. फिर मैं बाहर आया बाथरुम से.

 

वह बेड पर बैठी थी, कहने लगी बड़ा टाइम लगा दिया. मैंने बोला हां, फेसवोश करना था, वह कहने लगी झूठ अंदर मेरी ब्रा और पेंटी से मजे ले रहा था, मैं शॉक हो गया यह बात इनको कैसे पता चली.

 

फिर वह हंसने लगी मैं समझ गया कि आज तो फुल बेशर्म हो जाना ठीक है.

 

फिर मैंने उनको बाहों में लेकर बोला, यस मेरी जान और उनको लिप्स पर किस करने लगा. फिर थोड़ी देर बाद वह भी मुझ को किस करने लगी, हम दोनों एक दूसरे को किस कर रहे थे.

 

फिर उसने मेरी टी शर्ट उतार दी और मैंने उसकी चूची दबाने लगा, क्या मजा आ रहा था? ऐसा लग रहा था जैसे सॉफ्ट सी चीज हाथ में आ गई हो.

 

फिर उसने मेरी चड्डी में हाथ डाला और लंड हाथ में लेकर रगड़ने लगी, बहुत मजा आ रहा था. तब मैं उसके ऊपर कभी वह मेरे ऊपर, फिर मैंने उनकी नाइटी उतार दी और अब सिर्फ ब्लैक कलर की ब्रा और पेंटी में थी.

 

मैंने उनके चूचे चूसने लगा, गोरे गोरे मोटे मोटे फिर मैंने उनकी ब्रा भी उतार दी, और मेरे सामने बड़े बड़े चूची और मैं उसे चूसे जा रहा था पूरी ताकत से, फिर वह भी उत्तेजित हो गई, उन्होंने मेरी जींस निकाल दी और मेरे ऊपर आ गई.

 

पहले उन्होंने मेरे लिप्स पर किस किया, फिर मेरे कान काटने लगी. धीरे धीरे मेरी गर्दन पर किस और काटने लगी. क्या बताऊं बहुत मजा आ रहा था. फिर वह मेरी चेस्ट पर किस करने लगी, मेरे लंड पर हाथ फेरने लगी.

 

फिर मेरे लंड को हिलाने लगी, और एक दम से पूरा लंड अपने मुंह में ले लिया, मैं तो पागल हो गया था, मेरा इतना बड़ा सपना ऐसे पूरा होगा मैंने कभी सोचा नहीं था. वह मेरा लंड मुंह में लेकर चूसने लगी, चाटने लगी. बहुत मजा आ रहा था. फिर मैं उसके मुंह में ही झड़ गया.

 

फिर मैंने उसको नीचे लिटा दिया और उनके ऊपर चढ़ गया, और उनको किस कर रहा था पागलों की तरह, वह भी मेरा साथ दे रही थी. फिर मैं उनके गर्दन को चाटने लगा, किस करने लगा.

 

फिर नीचे आकर उनके बुबे दबा रहा था, चाट रहा था, बहुत मजा आ रहा था. फिर मैंने धीरे से उनकी पैंटी पर हाथ लगाया जो पूरी गीली हो चुकी थी. उनकी पेंटी उतार दी मैं तो देख कर हैरान हो गया था. चूत पर एक भी बाल नहीं था, मन ही मन में सोचा कि आज पूरे चोदने का मन है इसका.

 

फिर मैं उनकी चूत चाटने लगा, वह बहुत उत्तेजित हो रही थी. फिर मैंने अपना लंड उनकी चूत पर रगड़ने लगा, वह उछल पड़ी और बोली डाल दो प्लीज़ बहुत प्यासी हु,  ऐसे न तड़पाओ, पर यह सब सुनकर मैं कहां मानने वाला था.

 

मैंने और तड़पाया फिर मैं लेट गया और वह मेरे उपर आकर बैठ गई मेरे ऊपर उछलने लगी. जब भी वह उछल रही थी तो उनके बड़े बड़े चूचे हवा में जूल रहे थे और उनकी सिसकियां की आवाज़ आ रही थी, चोदो मुझे बहुत मजा आ रहा है, बहुत दिन से प्यार सी है यह चूत, मे उनको ऐसे ही चोदता रहा बहुत चोदा.

 

फिर मैं उनके ऊपर आ गया और वह मेरे नीचे आ गयी. मैंने उनको ऊपर से चोदने लगा, बहुत मजा आ रहा था. वह अपनी गांड उठा उठा कर मेरा साथ दे रही थी.

 

और आवाज आ रही थी ठप ठप ठप ठप उनकी आवाज सुनकर मैं बहुत जोश में आ गया और स्पीड बढ़ा दी, जोर जोरसे आवाज आ रही थी ऐसा लग रहा था मानो मैं जन्नत में पहुंच गया, जिनके बारे में मुठ मारता था आज वह मेरी बाहों में मुझसे चुद रही है.

 

यह बातें सोच सोच कर मैं पागलों की तरह चोद रहा था कि एकदम से उनके पति का फोन आ गया हम दोनों की फट गई कि यह क्या हो गया? फिर उन्होंने फोन उठाया और बातें करने लगी, मैं कहां रुकने वाला था और चोद रहा था, किस कर रहा था.

 

वह कहने लगी कि मैं कपड़े धो रही हूं बाद में बात करती हूं, उनके पति ने बोला ठीक है कोई नहीं मैंने तो ऐसे ही फोन किया था. बस फिर वह तो और पागलों की तरह गांड को उठा उठा कर साथ देने लगी. फिर १५ मिनट बाद हम दोनों जड गए और एक दूसरे के ऊपर लेटे रहे.

loading...