वाइफ को प्यार और सेक्स दोनों का मजा करवाया

वाइफ को प्यार और सेक्स दोनों का मजा करवाया

आज से ५ साल पहले मैंने अपनी वाइफ को देखा था, तब वो २३ साल की थी, मुझे हमेशा भरी भराई लड़कियां अच्छी लगती है, मेरे वाइफ भी कुछ ऐसी ही थी.

loading...

 

उसका फिगर ३६-३२-३८ था. मैंने पहली नजर में देखते ही उसे पहचान लिया कि यह मेरी लाइफ पार्टनर बन सकती है और कुछ ऐसा ही हुआ. एक साल के बाद शादी हो गई लेकिन एक साल में हमने कभी सेक्स नहीं किया था.

 

सिर्फ फोन पर बातें करते थे कभी कभी रात में हम दोनों सारी सारी रात बात करते रहते थे. हम दोनों को बहुत मजा आता था. मैं उसे हर तरह की बातें करता था एकदम ओपन और जब तक पानी नहीं निकलता था हम रुकते नही थे, तब तक फोन नहीं रखते थे, बहुत सारी सेक्सी बातें करते थे.

 

एक साल के बाद जब मेरी शादी हुई तो हम दोनों को बेताबी से अपनी सुहागरात का इंतजार था, और वह दिन भी आ गया, जब मैं और वह एक कमरे में थे. वह शादी में थी, क्या कमाल की सेक्सी लग रही थी. पूरी इंडियन लेडी लग रही थी. कुछ देर बातें करने के बाद में उसको प्यार करने लगा.

 

पहले उसने मना किया कि आज नहीं २-४ दिन के बाद करते हैं, और मैंने भी हां बोल दिया. लेकिन फिर एक बार गले लगते ही में और वह एक दूसरे को रोक नहीं पाए और किस करने लगे. किस करते करते वह जड गई.

loading...

 

उसके बाद तो फिर क्या था? मैंने नेहा की साड़ी उतार दी वह ब्लाउज पेटीकोट में कुछ इतनी हॉट लग रही थी मैं अपने शब्दों में नहीं बता सकता, एक बात बता दूं मैं अपनी वाइफ को बहुत प्यार करता हूं और वह भी. उस रात मैंने ड्रिंक भी की थी लेकिन ज्यादा नहीं. पता नहीं क्या हुआ मुझे किस करते करते मैं उसे चाटने लगा उसके चेहरे को चाटने लगा वह भी मेरा साथ दे रही थी.

 

फिर क्या था मैंने उसका ब्लाउज और टॉप भी निकाल दीया और उसके मोटे मोटे बोबे को दबा दबा कर चूसने लगा. वह मुझे अपने बूब्स को दातों से काटने को बोलने लगी और मैंने उसे काटना शुरु किया वह फिर से जड़ गई.

 

उसका पेटीकोट आगे से भीग गया. उसकी पगोरी गोरी जांघे देख कर तो मैं पागल हो गया.

 

मैं अपने सर मेरी वाइफ के पेटीकोट में डाल दिया और एक दम से शुरू हो गया. उसकी टांगों को कसकर पकड़ लिया और उसको धीरे धीरे से टच करने लगा. वह बेचैन थी और अब तो वह होने वाला था जिसका हर कच्ची कली को इंतजार होता है.

 

मैं उसे किस करता रहा जांगो पर, पैरों पर, कभी उल्टा लिटा कर कमर के ऊपर किस करता तो कभी हिप्स को दांतों से काटने लगता. वह अपने आप को मुझसे छुड़ाने लगी लेकिन मैंने नहीं छोड़ा. वह इतना पानी छोड़ रही थी जैसे मानो उसने पेशाब कर दिया हो, लेकिन मैं कहां मानने वाला था, मैंने उसको फिर से अपने सीने से लगा दिया गया और लेट गया.

loading...

 

एक्चुली मैं उसे तड़पा रहा था उसने मेरे कानों में कहा कि मुझे क्यों तड़पा रहे हो? मेरे सेक्सी पति प्लीज मान जाओ और जल्दी कर दो जो करना है, यह बोलते बोलते उसने मेरा लंड पकड़ लिया.

 

वह उसको पकड़ के और बेचैन हो गई हो उसे हिलाने लगी जीससे कि मैं उस को चोदने में ज्यादा टाइम नहीं लगाउ, लेकिन मैंने एक दम से उसके हाथों से अपना लंड छुड़ाया और उसे किस करने लगा.

 

उसके बाद मैंने कहा मुझे तुम्हारे होठो को किस करके बहुत मजा आ रहा है. क्या मुझे अपने दूसरे लिप्स को किस करने दोगी? वह समझ नहीं पायी तो मैंने कहा हां या ना बोलो जल्दी से.

 

वह बोली हां ठीक है कर लो. उसे यह नहीं पता था कि मैं कौन से लिप्स की बात कर रहा हूं. मैंने नीचे जाकर उसकी पैंटी पर किस किया.

 

वह घबरा गई बोली यह क्या कर रहे हो? मैंने बोला मैंने तुमसे पूछके यह किस किया और वह समझ गई. और मुझे बोली तुमने धोखा देकर मुझे वहां पर किस किया तुम झूठे हो इतना बोलते ही मैंने उसकी चूत पर दांतों से काटा और वह मचल गई.

loading...

 

और मेरे सर को पकड़ लिया मतलब यही था कि वह अपनी चूत को चाटने देना चाहती थी लेकिन मना कहा इतनी आसानी से मरने वाला था मैंने फिर से उसे गले लगा लिया और बेचैन हो चुकी थी उसके बदन में आग लगी हुई थी च** पानी निकाल रही थी वह भीड़ भीड़ आने लगी बोली प्लीज मान जाओ मेरी राजा मैंने एक स्कर्ट पर वह बोली जो कहोगे करूंगी लेकिन प्लीज़ तुम मान जाओ अब जल्दी से मुझे चोदो|

 

मैंने कहा ठीक है जल्दी से घोड़ी बन जाओ उसने बोला ठीक है वह जल्दी से घोडी बन गई और मेरी वाइफ की गांड तो इतनी सेक्सी और हॉट लग रही थी, कि मैं उसके अलावा आज तक किसी के बारे में सोच नहीं पाया. मैं उसके पास गया उसकी गांड को हाथों से सहलाया वह बोली क्या मैं अब सीधी हो जाऊं?|

 

मैंने कहा नहीं.. मैं तुम्हें एक और मजा देना चाहता हूं मैं झट से उसके पीछे आया और अपने चेहरे को उसके गांड के पास ले गया. उसको मेरी गर्म गर्म सांसे महसूस हुई, वह शांत हो गई. मैं भी शांत हो गया. मैंने उसके पैरों को थोड़ा और खोला पीछे से उसकी गांड खुली हुई थी. मोटे मोटे चूतड़ों के बीच की लाइन और खुली हुई थी.

 

मैंने अपना मुंह उसकी गांड से लगा दिया और उसकी गांड को चाटने लगा. वह चिल्लाने लगी और मजे लेने लगी. मैंने उसकी गांड को दोनों हाथों से जकड़ लिया और ऐसे ही चुसी उसकी गांड की आज भी वह भूल नहीं पाई है.

 

वह अपनी गांड को मेरे चेहरे से रगड़ने लगी अब मैं और ज्यादा सेक्स से भर चुका था उसकी चूत को भी अब मैं चाट रहा था गांड और चूत दोनों को मैंने बराबर प्यार किया. वह आज भी मुझसे ऐसे ही प्यार करने को बोलती है और मैं आज भी उसे इसी तरह प्यार करता हूं.

 

आखिर में मैंने उसको सीधा किया और अपने लंड को उसकी चूत में डाला. वह चिल्लाई, लेकिन उसने मुझे इतना टाइट पकड़ा हुआ था कि एक बार में ही अंदर घुस गया. खून भी बहुत निकला उस रात लेकिन उसके बाद भी हमने 3 बार चुदाई की.

 

loading...