दो बहनो का लेज़्बीयन सेक्स

दीदी और मेरा लेज़्बीयन सेक्स

फ्रेंड्स मैने अब तक बहुत सी सेक्स स्टोरीस पढ़ी है आप मे से बहुत लड़के लड़किया कहानी लिखते है की

loading...

मेरी चुत मे पानी आ जाता है ओर पूरी मेरी चुत गीली होकर मेरी पूरी चड्डी (पैंटी) भीगा देती है.

मैने अब तक अपनी स्टोरी नही बताई क्योंकि मुझे थोड़ी हिचकिचाहट लग रही थी पर अब तक इतनी कहानी पढ़ चुकी हू को मुझे अपनी कहानी आपको बतने

मे बहुत खुशी हो तभी है ओर बहुत एक्सिटमेंट भी है.

ये मेरी पहली कहानी है तो अब मे अपना इंट्रो दे दु मैं इशू मेरी उमर अभी 20 साल है ओर मैं अभी कॉलेज मे पढ़ती हू

मैं बहुत सेक्सी हू ओर बहुत ज़ायदा गोरी भी हू ओर मेरा फिगर 36-28-36 है

मुझे फिट रहना बहुत ज़ायदा पसंद है इससे लड़के अट्रॅक्ट होते है ओर लड़कियों को भी इंटरेस्ट आता है.

अब मेरी दीदी के बड़े मे बता दम मेरी दीदी का नाम सोनिया है वो मेरे से 2 साल बड़ी है ओर वो मेरे से ज़ायदा सेक्सी है

ओर इतनी गोरी है की मे भी फीकी पड़ जाओ वो अपने कॉलेज की टॉप को लड़की है उसका फिगर कुछ 34-30-36 है उसका एक बाय्फ्रेंड भी है ओर दीदी को सेक्स के बड़े

loading...

मे बहुत कुछ पता है ओर वो घर मे सिर्फ़ शॉर्ट्स पहनके घूमती है.

उसकी थाइस और बूब्स देखने से ही मेरी चूत मे पानी आ जाता है मुझे वो इतनी सेक्सी लगती है की

मैं उसे बहुत बार कपड़े चेंज करते देखती हू ओर नहाने के लिए जाते समय उसको देखती हू ओर

उसने निकली हुई चड्डी ओर ब्रा मैं सूंघ कर आपनी चुत मैं उंगली कराती हू उसकी पैंटी की खुश्बू इतनी मादक है की मैं पागल हो जाती हू.

अब ज़ायदा ना टाइम लेते हुए स्टोरी स्टार्ट कराती हू ये बात कुछ महीने पहले की है जब इसे ही

मैं अपने दीदी को कई बार नहाते ओर कपड़े बदलते देखती थी एक दिन हां मैं बठाना भूल गयी हमारे घर

मे मैं मेरी दीदी ओर आंटी अंकल रहते है तो एक दिन आंटी ओर अंकल हमारे रिलेटिव्स को शादी मे गये थे उस टाइम मेरी ओर दीदी की एग्ज़ॅम थी.

इसलिए हम नही गये ओर घर की 3 चाबी है एक मेरे आंटी अंकल के पास एक दीदी ओर एक मेरे पास रहती है उस दिन आंटी अंकल सबह ही शादी के लिए चले गये थे दीदी सबह एग्ज़ॅम देके आई थी ओर

मैं उसके बाद कॉलेज गयी थी मेरा उस दिन एग्ज़ॅम प्रॅक्टिकल था मेरी दीदी को पता नही था.

उसे लगा मैं रोज को तरह लेट आउंगी उस दिन दीदी घर मे अकेली थी ओर शायद अकेले होने से वो अपनी फॅंटेसी पूरी करना चाहती थी

loading...

मैं कॉलेज से जल्दी आ गयी ओर दोपहर होने को वजह से दरवाजा खोल के दीदी को डिस्टर्ब कर दूँगी इसलिए

में ने अपने पास की चाबी से दूर खोल के घर मे चली गयी ओर जाके फ्रेश हो कर आई ओर बेड पे लेट गयी तभी दोपहर की शांति थी तभी

मैने हल्के से कुछ आवज़ सुनी मैने पहले तो इग्नोर किया.

फिर आवज़ आती ही जा रही थी तो मैं उठी ओर आवाज़ के दायरे मे जाने लगी वो आवाज़ दीदी के रूम से आ रही थी मैने देखा की दूर थोड़ा सा खुला था तो

मैने सोचा को दीदी को कुछ हुआ तो नही इसलिए जा कर धीरे से दूर के पास गयी पर दूर खोलने से पहले मुझे क्लियर आवज़े आने लगी तो मैने कान देकर सुना तो कुछ इसे आवज़ थी ओह आआ अहह श माई गूदडद उम्म्म सस्स्स्सस्स.

तो मैने जो दरवाजा खुला था थोड़ा सा वाहा से अंदर ज़ाका देखा तो देखती ही रही मुझे मेरी आँखों पे यकीन नही हो रहा था मैं जो देख रही थी वो मुझे सपना लग रहा था

मेरे सामने मेरी दीदी पूरी नंगी बेड पे लेती हुई थी ओर अपनी टांगे फैलकर् लेती हुई थी ओर

उसकी चुत पूरी खुली हुई थी उसका एक हाथ उसके बूब्स पे था जो की बहुत भरे हुए गोरे गोरे ओर उसके पिंक निप्पल थोड़े से ब्राउन कलर के पूरे तने हुए थे ओर ओर

दूसरे हाथ से अपनी चुत मसल कर कराह रही थी.

ये देख कर मेरे होश उस गये ओर मेरा सपना जैसे सच हो गया था जो की मैं इतने दिन से देखना चाह रही थी वो आज

loading...

मेरे सामने नंगी चुत फैलकर् मज़े ले रही थी

मैं वही खड़े रही के मज़े लेने को सोची ओर आवाज़ न करते हुए देखते रही ओर देखते देखते मेरे हाथ मेरे पेंट के ऊपर से ही चुत पर घूम रही थी ओर

मैं अपने होंतॉह्न को अपने दाँतों से काट रही थी.

मुज़से रहा नही जा रहा था यो माने एक हाथ से मेरे टी-शर्ट को ऊपर करके अंदर हाथ डाल के बूब्स को मसल रही थी ओर अब दीदी जो की अपनी चुत मसलते हुए

आ उम्म्म्म उूउउइ स्सा कर के आवज़े कर रही थी उसने अपनी गान्ड उछल उछाल कर पुसी को मसल रही थी मेरी दीदी शायद से रेग्युलर शेव कराती थी क्योंकि उसके चुत पे बिल्कुल बाल नही थे

दीदी का पूरा बदन पसीने से भीग रहा था ओर वो ज़ोर से चिल्ला उठी ओर ज़ोर ज़ोर से साँसे लेने लगी.

शायद वो झड चुकी थी ओर वो रुक ही नही रही थी बेड पे इसे उछाल रही थी जैसे उसको उसका बाय्फ्रेंड चोद रहा हो

उसे कमरे मे सिरफफ़्फ़ आआआअ उउउ एम्म्म हााआ आवाज़ आ रही थी ओर

तब मेने देखा तो मेरी चुत से पानी निकल कर मेरी पेंट गीली हो कर बाहर आ गया था पर अब तक मैं ज़्ादी नही थी.

आगे की हम दोनो की चुदने की कहानी मैं पार्ट 2 मैं लिखूंगी तब तक आप सब मुझे आपको स्टोरी पढ़के कैसा लगा ओर

लड़किया जो भी ये पढ़ रही है उनके चुत से पानी आया होगा बहुत लड़को ने अपना हाथ मे लेकर हिलाया होगा तब तक आप मज़े लेकर कहानी पढ़े मुझे आपके कॉमेंट इंतेजर रहेगा.

loading...