गर्लफ्रेंड को क्रीम चटाई भाग -२

दोस्तों में फिर से हाजिर हूँ  लेटेस्ट सेक्स स्टोरी डॉट कॉम पर “गर्लफ्रेंड को क्रीम चटाई भाग -१” से आगे की कहानी लेकर। तो दोस्तों क्या मस्त गीली गीली चूत थी उसकी.
मुझे तो बस लगने लगा अब सामने आ जाए, हटा दो हर परदा. फिर मैने उसे बिठा लिया सोफे पर, और उसके सामने घुटने के बल बैठकर

उसे किस किया, फिर धीरे से उसके गालो के सहलाना शुरू किया. और नीचे गर्दन तक उंगलिया ले गया.

 

loading...

वो आँख बंद करके मस्ती मे झूम रही थी.

 

 

फिर मैने उसके शर्ट के बटन एक एक करके खोलने शुरू किए.

 

और बढ़कर उसकी ब्रेस्ट पे जीभ फेरने लगा. धीरे से शर्ट उतार देने के बाद मैने उसको चिपका लिया.

 

और गर्दन से लेकर पूरी ब्रेस्ट पे जीभ से चाटने लगा. धीरे से हाथ पीछे ले जाकर सेक्सी ब्रा के हुक खोल दिए.

loading...

 

 

और उसे अलग कर दिया. दोस्तो क्या मस्त चुचिया लटक गयी मेरे सामने.

 

टाइट बिल्कुल पानी भरे गुब्बारे जैसी, मैने निपल को मुँह मे लेकर चूसना शुरू किया.

 

और हाथ पेट से पीठ तक और पूरी बॉडी मे फेरने लग गया.उसने बदन पूरा ढीला छोड़ दिया. और मेरे ऊपर बिछ गयी. जैसे फिर मैं उसे सोफे पे पीछे की तरफ धकेल दूंगा. और उसकी जीन्स का बटन और ज़िप खोलने लगा.

 

 

पेट का निचला हिस्सा दिखा और में उसे भी जीभ से चाटने लगा. और धीरे से जीन्स नीचे खिसका दी. फिर उसकी टांगो पे चाटने लगा.

loading...

 

 

और किस करने लगा, फिर धीरे धीरे उसकी चूत की तरफ बढ़ा.जैसे ही जीभ बडाकर उसकी टांगो के अन्दर पार्ट मे पहुचाई तों उसने सिसक कर गांड पीछे उचका दी.

 

मैने पीछे हाथ डालकर गांड पकड़ी और उसकी चूत पे किस किया.

 

मेरे होट चूत पे लगते ही तो जैसे वो करंट खा गयी.गांड उचका के मेरे सर पे मारी और उचल कर खड़ी हो गयी.

 

 

 

loading...

मैने पूछा क्या हुआ, उसने कुछ नही बोला बस बड़ी बेशर्म निगाहो से मुझे देखते हुवे सोफे पे धक्का दे दिया.और मेरी गोद मे आकर बैठ गयी.

 

 

अपने पैर दोनो मेरी कमर के दोनो तरफ करके. मुझे अपनी जीन्स के ऊपर से ही अपने लंड पर उसकी मस्त गीली चूत का एहसास होने लगा. मैं भी मस्त हो गया, फिर उसने मुझे यहाँ वहाँ किस किया, मुझे गर्दन पे जीभ से चाटा और धीरे धीरे मेरी शर्ट के बटन खोलने लगी.
खोलते हुए उसने उंगलिया मेरे सीने पे फिराई और जीभ से मेरे पुरे चेहरे को चाटने लगी और होट चूसने लगी.
सारे बटनो को खोलकर उसने शर्ट अलग कर दी. और मेरे सीने से लगाकर पेट के निचले हिस्से तक जीभ से चाटा.
और फिर घुटने के बल नीचे बैठकर मेरी जीन्स की ज़िप खोली. और मेरा लंड जीन्स के अंदर हाथ डालकर सहलाने लगी. मैं तो बस आँखे बंद करके गर्दन ऊपर करके मजा ले रहा था.
मुझे पता था पहली बार है मैं उसे देखूँगा तो वो शरमाएगी और अपने आप कुछ नही करेगी. सो मैं बस आँखे बंद किए मज़े ले रहा था.
फिर धीरे से उसने लंड बाहर निकाला और उस पर किस किया. और फिर बटन खोलकर जीन्स उतारने लगी. मैने भी गांड उचका कर उसको उतरने दी.
फिर मेरी चड्डी भी उतार दी उसने और हम दोनो अब बिल्कुल नंगे हो गये थे. बस मैने उसे बोला था की सेंडील मत उतरना. वो सिर्फ़ सेंडल पहने थी और मैने कुछ भी नही. फिर उसने मेरी टांगो पे जीभ फेरना शुरू किया.
और धीरे धीरे ऊपर आते आते लंड के जस्ट बगल से होकर ऊपर पेट चाटने लगी. मुझे तो लगा बस मैं अभी झड़ जाऊंगा साला इतना मस्त लग रहा था.
फिर उसने मेरे लंड को हाथ मे पकड़ा और धीरे से ऊपर नीचे करके हिलाया. मेरा क्रीम थोड़ा सा निकला और वो उसे चाटने लगी. फिर उसने मेरे सूपडे के चारो तरफ अपना मुँह गोल करके होट रखे और एक मस्त सा किस दिया.
फिर वो पूरे लंड को जीभ से चाटने लगी. और धीरे धीरे चूसना शुरू किया मुझे तो जन्नत का मज़ा आने लगा था.
फिर मैं झट से उठा और उसे सोफे के हत्ते (बैठ कर हाथ रखने की जगह) पर गर्दन रखकर इस तरह से लिटाया की उसका मुँह उल्टा होकर निचे को लटक गया.
फिर मैं पीछे गया और झुककर उसके मुँह मे लंड डाल दिया. उसका मुँह चोदना शुरू किया.
धीरे धीरे और वो भी आँखे बंद करके बस लंड अंदर बाहर होने का मज़ा ले रही थी. मैने थोड़ी देर उसके मुँह को चोदा और फिर झड़ने लगा तो उसने मुँह हटाना चाहा पर मैने उसके चेहरे को कसके पकड़ा और उसके मुँह मे ही झड़ गया.
वो बातरूम मे भागने लगी पर मैने उसे पकड़ लिया और बोला रूको.. मुँह खोलो उसने मुँह खोला तो मैने दो उंगली मुँह मे डालकर अपना क्रीम निकाला और उसके बोब्स पे मल दिया और रग़ड रग़ड कर सूखा दिया, फिर थोड़ा सा क्रीम निकाला और उसकी चूत पे लगा दिया.
और उंगली डालकर अंदर बाहर करने लगा. और एक उंगली उसके मुँह मे डालकर उसकी जीभ और अपने क्रीम से खेलने लगा.
उसे इतना मज़ा आने लगा की अपने आप ही मेरा क्रीम अपने मुँह मे ले लिया उसने.
फिर मैने उसे सोफे पे लिटाया और उसके पैरो के बीच जाकर उसकी चूत को चाटना शुरू किया. जब नीचे गया तो मैने देखा की उसकी चूत पर एक भी बाल नहीं है, उसने कहा प्लीज ऐसा करो आज जो उसे कभी नहीं भूले.
फिर मैने उसे सीधा लिटाया और उसकी चूत पर किस किया. और उसके मूहँ से आआआ……..हह………हा हट जाओ प्ली…………….ज्ज्ज्ज…………ज्ज् कुछ हो रहा है निकल गया. मेंने कहा रूको तो सही अभी और मज़ा आएगा. वो तड़पती रही और थोड़ी देर मैं मैने महसूस किया की उसकी पकड़ मेरे बाहों मैं मज़बूत हो गयी है.
और जब तक मैं समझता वो झड़ गयी.
और मैने उसकी चूत का रस चाटना शुरू कर दिया. वो मुँह से अजीब सी आवाज़े निकाल रही थी. और अपनी कमर उठाकर चूत मेरे मुँह पर दबाती जा रही थी.
थोड़ी देर चाटने के बाद मैने उसकी गांड पे भी जीभ फिराई और थोड़ी देर वहाँ भी चाटा, साथ मे उसकी चूत मे फिर से उंगली घुसेड दी. वो तो पागल सी होने लगी और बोली ऊऊ…….ईईई……..म्मम्मम्मम………..माँ निकल गया प्ली………ज मुझे ऐसे ही चूसते रहो चूसो और ज़ोर से चूसो प्ली……………………………………..ज्ज्ज्जज्ज्ज्जज्ज्ज…………………………………………………………………….ज.
थोड़ी देर और चूमने चाटने के बाद मैं साइड मे लेट गया, मैने पहली बार किसी लड़की को झड़ते देखा था. उसकी पिचकारी 1 या 1,1/2मीटर दूर तक गयी.
फिर उसका हाथ मेरे लंड पर गया जो रोड की तरह खड़ा था. फिर मैने चुदाई शुरू करने की सोची और उसे समझाया की पहले-2 दर्द होगा फिर बहुत मज़ा आएगा. तुम थोड़ा सहन कर लेना.

वो मान गयी और मै उसके ऊपर आ गया.

 

और अपने लंड को उसकी चूत पर सेट किया और थोड़ी देर वही रगड़ा. फिर मैने एक धक्का मारा और उसकी चूत गीली होने के कारण 3 इंच के झटके मैं अंदर चला गया.

और वो चीखने लगी और उसकी आँख से आँसू छलक गये.मैने तुरन्त उसके होंठो पर अपने होंठ रख दिए. और मुँह बंद कर दिया.

 

 

धीरे धीरे उसके होंठो को चूसने लगा. और थोड़ी देर तक धक्का नही लगाया. मैने उसके बहते आँसुओ को चूम लिया. और प्यार से उसके माथे पर हाथ फिराया.

फिर उसे थोड़ा आराम मिला. और उसने कहा की अब आराम आराम से करो.
फिर मैने धक्के लगाना शुरू किया और मज़े लेने लगा. उसे भी मज़ा आने लगा और वो बड़बड़ाने लगी ओह……लगग्ज्ग ……रहाा ……हाईईईईई………आआअहह चोद दो और जोर से मै तुम्हारी वाइफ हूहूहू……..हूँ मारो और जोर से ……आआहहहा”.
वो मेरे बाल को सहलाते हुए अपनी गर्दन को उठाते हुए फिर से बोली के प्लीईआअसस्सीईई……….. आह …..माआरूऊओ…… ज़ोर से और ज़ोर से मे रण्डी हूँ……. इसीलिए तो मे तुम से चुदवा रही हूँ. मा…..आआआआआआ……..रो ऐसे ही. …..आहह…हा”.
मैने कहा आए हाए मेरी जान क्या बात है. अभी तो ऐसे शरमा रही थी और अब… अच्छा ठीक है अब तुम्हे मस्त करके चोदता हूँ.

और धीरे-2 मैने अपना सारा लंड उसकी चूत मैं उतार दिया.और 5 मिनट रुक कर धक्का मारने लगा. मेरा लंड अब और अंदर जाने लगा. और पूरा 8इंच अंदर चला गया. और उसकी सील टूट गयी और ब्लडिंग शुरू हो गयी.

 

 

दोस्तो क्या मस्त टाइट चूत थी उसकी. शुरू शुरू मैं मुझे भी बहुत दर्द हुआ.

 

 

पर बाद मैं सब ठीक था. मैने इस तरह उसे 20 मिनट चोदा और वो इस दौरान 3बार झड़ चुकी थी.

 

 

थोड़ी देर और चोदने के बाद मैं उसे बाथरूम मैं ले गया और घोड़ी बना कर चोदना शुरू किया. मैं बहुत स्पीड से उसे चोद रहा था. और उसकी चूचियो से खेल रहा था. वो झड़ती रही और उसका पानी टप टप करता हुआ गिरता रहा इस स्टाइल मैं मेने उससे 35 मिनट तक चोदा होगा. और फिर मैं भी झड़ने वाला हुआ तो मैने उससे बताया, उसने कहा की मैं भी झड़ने वाली हूँ.
पर अपना पानी अंदर मत छोड़ना.
और 2 मिनट चोदने के बाद वो झड़ गयी , मैने अपना लंड बाहर निकाला और उसे लिटा दिया.
फिर मैने अपना लंड उसकी चूत पर रगड़ना शुरू किया. और थोड़ी देर मे झरने लगा. मैने अपना सारा पानी उसके पेट पर निकाल दिया.
फिर मैंने अपना लंड उसके पेट पे फेरना शुरू किया. और अपना वीर्य लंड पे लपेट लिया और लंड जो की पूरा गीला हो चुका था. और मेरे गाढ़े रस मे लिपटा हुआ था.
उसके मुँह के पास ले जाकर बोला, जानू चाट लो इसे, वो बड़े प्यार से मेरा सारा पानी चाटने लगी लंड को चारो तरफ से जीभ फिरा कर. फिर हम दोनो नहाए और फिर उससे पता नहीं क्या हो गया.
उसने दुबारा मेरा लंड चूसना शुरू कर दिया. और मैं फिर गरम हो गया और फिर मैने उसे करीब 1 घंटा और चोदा. उस दिन वो मुझसे करीब 2 घंटे चुदी और 7-8 बार झड़ी.
उस दिन के बाद से अक्सर हम लोग कहीं भी कभी भी चुदाई करने लगे. और एक दूसरे को झड़ने लगे, कभी मुँह मे कभी हाथ मे और कभी चूचियो या पीठ पर. कुछ महीनो बाद वो किसी दूसरे शहर चली गयी…
मैने कई बार और चुदाई की कुछ और लड़कियो के साथ, कभी वाइल्ड सेक्स किया, कभी गंदी गालिया देकर भी तो कभी दो को एक साथ भी चोदा.. वो मैं आपको बाद मे सुनाऊंगा.
तो दोस्तो कैसी लगी मेरी ये स्टोरी, ज़रूर से अपने कॉमेंट्स भेजिएगा, मैं आपसे और भी एक्सपीरियेन्सस शेयर करूँगा…
धन्यवाद
loading...