ऍम.बी.बी.एस गर्लफ्रेंड की चूत की सिल तोड़ी.

हेलो फ्रेंड्स, आप सब को मेरा सलाम. आई ऍम राज फ्रॉम पंजाब, उम्र २४ साल और मेरी हाइट है ५.६ फीट. डिक साइज़ ६.५ इंच और ३.५ इंच थिक है.  यह स्टोरी आज से २ पहले की है.

मेरी एक गर्लफ्रेंड थी उसका नाम था महक था. महक की उम्र २१ साल और हाइट ५.४ फीट और ब्यूटीफुल फेस औद सेक्सी बॉडी. उसका फिगर होगा ३४- ३२- ३६ और गांड तो मानो देख कर लंड उछलने लगे और क्या बड़े- बड़े बूब्स थे.

loading...

वो बहुत सेक्सी थी और ऍम.बी.बी.अस. कर रही थी चंडीगढ़ से.

एक दिन उसने मुझे कॉल किया था कि क्या हम मिल सकते है.

 

मेरी पी. जी. वाली आंटी अब्रॉड गयी हुई थी, और मेरी रूम मेट अपने गाव गयी है और मैं अकेली हूँ नाईट में अपने पी.जी. में तो मैंने हां कर दी.

 

उसने कहा कि वो शाम ४ बजे तक फ्री जाएगी, तो मैंने कहा मैं ४ बजे पहुच जायूँगा. जब मैं उसके कॉलेज के बाहर पंहुचा, तो वो मेरा वेट कर रही थी. हम मूवी देखने गए. हम ने दबंग- २ देखी और फिर एक होटल में डिनर किया और फिर मैं और महक उसे पी. जी आ गए.

 

वो उस दिन बहुत सेक्सी लग रही थी. उसने टाइट टी-शर्ट और जीन्स पहन रखी थी. उसका पी. जी. एक दम खाली था.

loading...

 

हम दोनों साथ में बैठे थे और पता नहीं मुझे क्या हुआ, मैंने महक का किस करना शुरू कर दिया और एक दम टाइट हग किया.

 

वो भी मेरा साथ देने लगी और बोली आई लव यु. राज. मैंने भी बोला आई लव यु टू बेबी.

 

मैंने धीरे से उसकी कमीज़ उतार दी. उसने बेबी पिंक कलर की ब्रा पहनी हुई थी. मैंने उसके बूब्स प्रेस किये ब्रा के ऊपर से ही.

 

और फिर उसकी ब्रा भी रीमूव कर दी और उसके बूब्स चूसने लगा मुह में लेकर और उसकी जीन्स में हाथ डाल कर उसकी चूत को रगड़ने लगा.

वो तड़प उठी और मुझ से लिपट गयी. मैंने उसकी जीन्स उतार दी.

 

loading...

उसने बेबी पिंक कलर की ही पेंटी पहन रखी थी, मैंने वो भी उतार दी. फिर अपने भी सारे कपडे उतार दिए और साथ में अंडरवियर भी.

 

फिर मैंने लाइट ऑफ कर दी और उसे हग किया और उसके लिप्स चूसने शुरू किये और उसके बूब्स भी साथ- साथ प्रेस कर रहा था.

 

मैंने उसकी चूत में उंगली डाली, वो तड़प उठी और रोने लगी. मैंने उसे चुप करवाया और उसे बेड पर लिटाया और खुद उसके ऊपर आ गया और अपने लंड को उसकी चूत पर सेट कर के एक झटका मारा.

 

मेरे लंड का टोप उसकी चूत में था और वो चीखने लगी.

 

मैंने अपना लंड निकला और लाइट ओन करी और देखा मेरे लंड पर ब्लड लगा था और उसकी लेग्स पर ब्लड के निशान थे और बेड शीट भी ब्लड से थोड़ी सी भीगी थी.

और यह बात प्रूव हो चुकी थी कि महक अभी तक वर्जिन है. मैंने उसे हग किया और फिर उसने कॉटन से मेरा लंड और और अपनी चूत और बेड शीट को साफ किया. फिर हमने मिल कर बेड शीट चेंज की.

loading...

 

इसके बाद हम फिर बेड पर आ गए.

 

और मैं उसे फिर से लिप किस करने लगा और उसके बूब्स को चूसने लगा. मेरा लंड एक दम टाइट हो चूका था और मैंने फिर से उसको थोडा गरम कर के अपने लंड को उसकी चूत पर सेट किया और झटका मारा.

 

उसकी चीख फिर से निकल गयी ईई… मा…… मैंने ऐसे ही ४, ५ झटके मारे और मेरा लंड उसकी चूत के अंदर चला गया. फिर मैंने धीरे- धीरे लंड को अंदर बाहर करना शुरू कर दिया.

 

थोड़ी देर बाद उसकी चूत गीली हो गयी और उसका दर्द भी कम होने लगा.

 

और जब मुझे लगा की दर्द अब कम हो रहा है. मैंने अपने  झटके थोड़े तेज़ कर दिए.

 

और जब मैंने अपने स्ट्रोक की  स्पीड और बढाई तब कमरे में से पहले जहा आः… ऊऊ…. की आवाज़े आ रही थी, अब पच.. पच… पचचचच … गूचचच… थाप्प्प्प…… थाप्प्पप्प्प… ठप…. चप्प्पप्प्प… चप्प्प…  की आवाज़े रूम में गूँज रही थी.

 

३० मिनट की ज़बरदस्त चुदाई के बाद मेरा लंड डिस्चार्ज होने वाला था.

 

मेरे लंड ने हॉट स्पर्म की पिचकारी निकाली और मैंने अपना सारा स्पर्म उसकी चूत में ही डिस्चार्ज कर दिया.

 

हॉट स्पर्म की पिचकारी के कारन वो मुझ से जोर से लिपट गयी और हम दोनों १५ मिनट तक ऐसे ही पड़े रहे.

 

आफ्टर १५ मिनट हम दोनों वाशरूम गए और मैंने अपने लंड को वाश  किया और उसने अपनी चूत को.

 

फिर वो कित्चें में गयी और कॉफ़ी लेकर आई. फिर हमने साथ में बैठ कर कॉफ़ी पी. और बाते करी और मैंने उसे हग किया.

 

कॉफ़ी पीकर हम फिर बेड पर आ गए.

 

मैंने उसे लिप किस स्टार्ट की और उसके बूब्स दबाने लगा और अपना लंड उसके होठो पर दबा दिया.

 

जैसे ही मेरा लंड उसके होठो से छुआ वो भी गरम हो गयी और हम दोनों फिर से तैयार हो गए एक और चुदाई के लिए.

 

इस बार मैंने उसको घोड़ी बनाया और उसके पीछे आकर अपना डिक उसकी चूर पर सेट किया और कुछ सेकंड अपना लंड उसकी चूत पर रब करने के बाद एक धक्का मारा. मेरे लंड का तोप उसकी चूत में था.

मैंने और धक्के मारे और पूरा लंड उसकी चूत में उतर गया और फिर मैंने स्ट्रोक की स्पीड को स्लो रखा. ओ आया…. ऊऊ…. मर्र्र…. गयीई…. की आवाज़े करती रही.

आफ्टर १० मिनट्स उसकी पुसी गीली हो गयी. और फिर मैंने अपने स्ट्रोक की स्पीड बढ़ा दी.

 

और अब रूम की साउंड चेंज हो गयी गचचचच….. गचचचच…. पचचचचच……. चाप…. थाप्प्प…. और वो बोल रही थी फक ममी हार्डली…. आया…. ऊउईइ…..

मैंने उसे पूरी तरह से छोड़ा और फिर उसे अपने ऊपर आने को कहा. और वो मेरे ऊपर आ गयी.

 

फिर उसने अपनी टाइट चूत मेरे लंड पर राखी और मैंने धीरे- धीरे अपना लंड उसकी चूत में उतार दिया.

 

उसकी चूत गीली थी जो की लुब्रिकेंट का काम रही थी. मेरा डिक भी गिला हो गया. और वो मेरे लंड पर सवार थी.

 

मैंने उसकी कमर पर हाथ रखा और उसे जम्प करवाना स्टार्ट किया. और मैं खुद भी निचे से धक्का मार रहा था.

 

और मुझे महसूस हुआ हो रहा था जैसे मेरा लंड उसकी चूत को चीरते हुए टॉमी टक तक जा रहा था.

 

 

अब वो पूरे मूड में थी और मेरे लंड पर खुद उछल रही थी और मुझे लिप किस भी कर रही थी.

 

और मैं उसके बूब्स को चूसते हुए अपने लंड से उसकी चूत में धक्के मार रहा था.

 

४५ मिनट की चुदाई के बाद मेरा लंड अब ब्लास्ट करने वाला था और मेरे लंड का ब्लास्ट हुआ और सारा स्पर्म मैंने उसकी चूत में दाल दिया और वो मुझ से लिपट गयी.

 

उसने मुझे बताया की इस स्पेल में वो ४ बार दिस्कार्गे हुई.

 

इसके बाद हम सो गए  और उसकी पी.जी वाली आंटी ४ दिन के लिए आउट ऑफ़ इंडिया थी तो मैंने रेगुलर ४ दिन उसकी चुदाई की.

 

तो कैसे लगी आपको मेरी स्टोरी…..

loading...